गोरखपुर में बिना एलआईयू जांच के बनते हैं शस्त्र लाइसेंस

गोरखपुर (जयप्रकाश यादव)
संज्ञान न्यूज गोरखपुर
शस्त्र लाइसेंस आवेदन के लिए पुलिस वेरीफिकेशन में एलआईयू जांच का कॉलम गोरखपुर में बंद कर दिया गया है। अब प्रशासन और थाना पुलिस की वेरीफिकेशन के आधार पर ही यहां लाइसेंस जारी हो रहे हैं। एलआईयू ने पुरानी परंपरा का हवाला देते हुए अपनी जांच कॉलम बढ़ाने की मांग की थी पर आवेदन का फार्म छपने का हवाला देकर नए फार्म में कॉलम बढ़ाने की बात कही गई थी।

2011 के बाद से ही एलआईयू नहीं लगाती रिपोर्ट

मायावती सरकार ने अपने कार्यकाल में असलहा लाइसेंस बंद कर दिया था। बाद में जब सपा सरकार आई तो सरकार के अन्तिम वर्षों में कुछ दिन के लिए फिर से लाइसेंस जारी करने की प्रक्रिया शुरू हो गई। तत्कालीन डीएम ने एलआईयू को पता वेरीफिकेशन से अलग कर दिया था। भाजपा सरकार आने के बाद चुनाव से ठीक पहले सरकार ने लाइसेंस जारी करने की प्रक्रिया शुरू कर दी इसको लेकर आवेदन के फार्म छपवाए गए लेकिन इस बार फार्म से एलआईयू जांच का कॉलम ही हटा दिया गया।

एलआईयू इन्हीं मामले में लगाती है रिपोर्ट

गोरखपुर एलआईयू वर्तमान में पासपोर्ट और सुरक्षा से जुड़ी जांच, ठेकेदारी, नौकरी, गनर की डिमांड आदि में ही अपनी रिपोर्ट लगाती है। इसके अलावा पुलिस अधिकारी जिस मामले में अलग से एलआईयू से रिपोर्ट मांगते हैं उसमें रिपोर्ट देती है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: