यूपी चुनाव के बीच अयोध्या में डीएम आवास के बोर्ड का रंग बदलकर भगवा से हुआ हरा

गलत समय पर पीडब्ल्यूडी ने बदला है बोर्ड का रंग: डीएम

शशिकांत मिश्र

अयोध्या(संज्ञान न्यूज़)|सोशल मीडिया पर सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव को गुड मॉर्निंग का मैसेज भेजने वाले नौकरशाह के नाम पर अभी प्रदेश में कयासबाजियां चल ही रही थीं कि अयोध्या में जिलाधिकारी के अस्थायी आवास के पास हुए एक वाकया ने सबको हैरत में डाल दिया। दरअसल यहां आवास के बाहर लगा बोर्ड भगवा रंग में रंगा था। बुधवार को इसमें तब्दीली करते हुए इसे हरा कर दिया गया। इसके बाद से हरा रंग ने सियासत को ऐसी हवा दी कि हर कोई लाल रंग की ओर निहारने लगा है।
दोपहर के 1 बज रहे थे। तेज कड़ी धूप थी। सिविल लाइंस स्थित ईदगाह के पास जिलाधिकारी नितीश कुमार के अस्थायी आवास के बाहर लगा बोर्ड बदला जाने लगा, जो पिछले कई वर्षों से भगवा रंग में रंगा था। इस बीच वहां मौजूद लोग यह देखकर दंग रह गए कि जिस बोर्ड का अभी तक रंग नहीं बदला गया वह अचानक कैसे हरा हो रहा है। खबर सोशल मीडिया पर आग की तरह फैल गई और लोग इसके तरह-तरह के मतलब निकालने लगे।हालांकि जिला प्रशासन ने इस बात का खंडन करते हुए कहा है कि जिलाधिकारी का मुख्य आवास गद्दोपुर रोड पर है।

अयोध्या में डीएम आवास के बोर्ड का रंग बदलकर भगवा से हुआ हरा

मेंटेनेंस कार्य के चलते कुछ दिनों के लिए यहां शिफ्ट किया गया है। लोक निर्माण विभाग ने बोर्ड का रंग बदला है। सोशल मीडिया पर लोक निर्माण विभाग द्वारा बदलाव की खबर के बाद डीएम ने अफसरों की तगड़ी क्लास भी लगाई है। गंभीर बात यह है कि इसके लिए डीएम ने मीडियाकर्मियों से बातचीत की, लेकिन लोक निर्माण विभाग के अफसरों के बोर्ड के रंग में बदलाव को लेकर बोल नहीं फूट रहे हैं।पांच साल पहले भगवा रंग के हुए थे सभी सरकारी आवास, कार्यालयों को बोर्ड पांच साल पहले यूपी में योगी सरकार बनने के बाद ही डीएम आवास के साथ बसों व सरकारी कार्यालयों बोर्ड के रंग भगवा कर दिए गए थे। इसके पहले अखिलेश सरकार के दौरान सरकारी रंग लाल व हरा में बदला गया था। बिना सत्ता परिवर्तन के रंगों की सियासत के कई मायने निकाले जा रहे हैं। सपा के नेता इसे योगी सरकार की विदाई कह कर प्रचारित कर रहे हैं।आखिर पहले क्यों नहीं बदला रंग लोक निर्माण विभाग का तर्क है कि विभाग के सभी कार्यालयों के बोर्ड का रंग हरा ही रहता है। हालांकि अफसर इस बात का जवाब नहीं दे सके कि इतने वर्षों से रंग में बदलाव क्यों नहीं किया गया। ऐन चुनाव निपटने के बाद अनुरक्षण के नाम पर बोर्ड के रंग में बदलाव के कई निहितार्थ लगाए जा रहे हैं।वर्जन मेरे मूल आवास पर अभी भी बोर्ड का रंग नहीं बदला गया है। जिसका रंग बदला गया वह अस्थायी आवास है। लोक निर्माण विभाग ने इस बोर्ड का रंग बदला है। मेरी विभाग से बात हुई है। उन्होंने बताया कि विभाग के बोर्डों का रंग हरा ही रहता है। नितीश कुमार, अयोध्या, जिलाधिकारी।

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: