लखीमपुर खीरी में लोग हुए साइबर क्राइम का शिकार:लोगों के खाते से गायब हुए पैसे, मैसेज आने पर हुई जानकारी, बैंक मैनेजर पर मदद नहीं करने का आरोप

मनोज वर्मा,उमापाल वर्मा

लखीमपुर (संज्ञानन्यूज़) लखीमपुर की भारतीय स्टेट बैंक की निघासन शाखा में साइबर क्राइम का मामला प्रकाश में आया है। बैंक से कई ग्राहकों के पैसे गायब हो गए। ग्राहक के मोबाइल पर जब खाते से रुपए निकलने की सूचना आई, तब बैंक में जाकर उक्त घटना की जानकारी दी। पीड़ितों ने जब स्टेटमेंट निकलवाया तो पता चला कि वह साइबर क्राइम का शिकार हो चुके हैं।
कस्बा रकेहटी निवासी अशोक कुमार ने बताया कि उनका खाता निघासन स्थित भारतीय स्टेट बैंक में है। जिसमें 4 फरवरी 2022 को 6000 रुपए जमा होने के पश्चात कुल बैलेंस 10823 रुपये था। उसके बाद 10 फरवरी को खाते से 10000 रुपए और दूसरे दिन 800 रुपये कट गए।


तहरीर देकर कार्रवाई की मांग
इस प्रकार खाते से कुल 10800 रुपए निकाले गए। उक्त निकासी की जानकारी प्रार्थी के खाते में लिंक मोबाइल नंबर पर मैसेज आने से हुई। इस पर खाता धारक अगले दिन शाखा पर गया और शाखा प्रबंधक को लिखित में प्रार्थना पत्र देकर शिकायत दर्ज कराई। जिस पर उचित कार्रवाई न होने के कारण खाता धारक ने सीओ और कोतवाली निघासन में भी तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।
पुलिस कर रही है मामले की जांच
वहीं रकेहटी के ही रहने वाले जितेंद्र कुमार ने बताया कि उनके भी खाते से रुपये निकल गये हैं। इसकी शिकायत उन्होंने मुंबई हेड ऑफिस में भी की है। जितेंद्र ने बताया कि हमारे साथ हुई धोखाधड़ी में न ही पुलिस सहयोग कर रही है और न ही बैंक मैनेजर। बैंक मैनेजर का रवैया वैसे भी बहुत खराब है। मामले में शाखा प्रबंधक रजनीश यादव से बात की गयी तो उनके द्वारा बताया गया कि दोनों प्रकरण मेरे संज्ञान में हैं। आधार बेस पेमेंट हुआ है। दोनों में अंगूठा लगाकर रुपए निकाले गए हैं। प्रकरण की जांच हेड ऑफिस, सायबर सेल और निघासन पुलिस के द्वारा की जा रही है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: