गौतमबुद्ध नगर बनेगा रोबोटिक हब, हर साल होंगे 5 लाख रोबोट तैयार, मिलेगा हजारों युवाओं को रोजगार

Noida News : उत्तर प्रदेश उद्यमियों की निवेश के पहली पसंद बनता जा रहा है। जिसके लिए प्रदेश सरकार भी उद्योग के लिए निवेश को बढ़ावा देने की तमाम कोशिशें कर रही है। ऐसे में अब यूपी का गौतमबुद्ध नगर जिला रोबोटिक हब के रूप में विकसित होने जा रहा है। यहां पर कई कंपनियों ने रोबोटिक इकाइयां लगाने के लिए निवेश किया है। जल्द ही जिले में रोबोट बनाने वाली कंपनियां लगनी शुरू हो जाएंगी। ग्रेटर नोएडा में लगने वाली फैक्ट्री हर साल 5 लाख रोबोट तैयार करेगी। इन इकाइयों के लगने से हजारों युवाओं को रोजगार मिलेगा। कंपनियों के विकसित होने से क्षेत्र भी तरक्की की ओर आगे बढ़ेगा।

चीन की बड़ी कंपनियों को टक्कर देंगे 
आपको बता दें कि गौतमबुद्ध नगर जिले में कई रोबोट बनाने वाली बड़ी कंपनियों ने निवेश किया है। जिसके लिए उन्होंने जिले में जमीन भी खरीद ली है। जल्द ही यहां पर काम शुरू कर दिया जाएगा। इन कंपनियों के विकसित होने से तकरीबन 12 हजार लोगों को रोजगार मिलेगा। इसके अलावा इन कंपनियों में बनने वाले रोबोट चीन की बड़ी कंपनियों को टक्कर देंगे। 

ग्रेनो में बनेगी दुनिया का सबसे बड़ा रोबोटिक फैक्ट्री 
वहीं, प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि रोबोट बनाने वाली एक जानी-मानी कंपनी एडवर्ब टेक्नोलॉजी ने गौतमबुद्ध नगर जिले में अपनी इकाई विकसित करने के लिए निवेश किया है। यह कंपनी ग्रेटर नोएडा में दुनिया का सबसे बड़ी रोबोटिक फैक्ट्री बनाएगी। इस कंपनी में नोएडा के ईकोटेक-1 में 500 करोड़ रुपए का निवेश कर करीब 13 एकड़ जमीन खरीदी है। अगले 4 साल के अंदर कंपनी को स्थापित कर शुरू कर दिया जाएगा। इस कंपनी के शुरू हो जाने से करीब 2 हजार लोगों को रोजगार प्राप्त होगा। इस फैक्ट्री में हर साल 5 लाख रोबोट तैयार किए जाएंगे। 

भारत भी नहीं यूरोप और बाकी देशों में भी होते इनके रोबोट इस्तेमाल 
एडवर्ब टेक्नोलॉजी के सह-संस्थापक सतीश शुक्ला ने बताया कि उनकी कंपनी द्वारा बनाए जाने वाले रोबोट भारत ही नहीं बल्कि यूरोप और बाकी के देशों की फैक्ट्रियां वेयरहाउस और मॉल आदि जगहों पर 2 किलो से 2 टन के समान उठाने के लिए इस्तेमाल किए जा रहे हैं। 

इन कंपनियों ने भी किया निवेश 
एडवर्ड टेक्नोलॉजी के साथ-साथ ऐनलटेक इंडिया, गुरु अमरदास इंटरनेशनल और टेराॅन माइक्रो सिस्टम ने भी गेटर नोएडा में रोबोटिक इकाइयां लगाने के लिए निवेश किया है। मोबाइल पार्ट्स बनाने वाली कोरियन कंपनी एलेनटेक इंडिया ने ग्रेटर नोएडा के ईकोटेक-1 एक्सटेंशन वन में हजार करोड़ रुपए का निवेश कर 20,235 वर्ग मीटर का प्लॉट खरीदा है। इस इकाई के विकसित होने से 8 हजार युवाओं को रोजगार मिलेगा। इसी के साथ इलेक्ट्रॉनिकल सामान बनाने वाली टेराॅन माइक्रो सिस्टम ने ईकोटेक वन में 23 करोड रुपए का निवेश कर दो एकड़ जमीन खरीदी है। इससे 150 युवाओं को रोजगार मिलेगा। वहीं, इसके अलावा आईआईटीजीएनएल में 4.65 प्लॉट खरीदने वाले गुरु अमर दास इंटरनेशनल कंपनी के बन जाने से लगभग 1,100 युवाओं को रोजगार प्राप्त होगा।

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: