Indian Railway: अब शताब्दी और वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन में रेडियो पर संगीत सुनते हुए सफर करेंगे यात्री, यहां जाने वालों का होगा मनोरंजन

दिल्ली से अलग-अलग राज्यों में टेनों के माध्यम से यात्रा करने वाले यात्रियों को अब रेडियो के माध्यम से संगीत सुनने को मिलेगा. उत्तर भारत रेलवे (Northern Railway) ने शताब्दी एक्सप्रेस (Shatabdi Express) और वंदे भारत (Vande Bharat) ट्रेनों में रेडियो के जरिए यात्रियों के मनोरंजन की व्यवस्था की है. अब आप दिल्ली (Delhi) से यदि इन रेलगाड़ियों में सफर करेंगे तो आपको रेडियो के जरिए संगीत सुनने को मिलेगा. इसके अलावा रेलवे सूचना और कई विज्ञापन भी सुनाई देंगे.

रेडियो सेवाओं के माध्यम से इन ट्रेनों में मनोरंजन प्रदान करने की पहल दिल्ली मंडल के रेल प्रबंधक डिंपी गर्ग और वरिष्ठ वाणिज्य प्रबंधक प्रवीण कुमार के दिशा-निर्देश से की गई है, जिसको लेकर उत्तर रेलवे की ओर से जानकारी दी गई है कि शताब्दी और वंदे भारत एक्सप्रेस रेलगाड़ी में रेडियो के माध्यम से विज्ञापन भी सुनाई देंगे. इसके अलावा रेलवे सूचना और संगीत यात्रियों को सुनने को मिलेगा. इसके जरिए रेलवे के राजस्व में भी बढ़ोतरी होने का अनुमान है. रेलवे के मुताबिक इससे सालाना 42.20 लाख रुपये का राजस्व प्राप्त होगा.



यहां जाने वाले यात्री सुनेंगे संगीत

उत्तर रेलवे ने बताया दिल्ली से लखनऊ, भोपाल, चंडीगढ़, अमृतसर, अजमेर, देहरादून, कानपुर, वाराणसी, कटड़ा और काठगोदाम की यात्रा करने वाले यात्रियों का स्वागत अब शताब्दी और वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों में रेडियो संगीत के साथ होगा. इस दौरान यात्रियों की यात्रा न केवल संगीत सुनते-सुनते होगी, बल्कि वह जिन शहरों और राज्यों की यात्रा करेंगे, वहां का अनुभव भी उन्हें संगीत के जरिए मिलेगा।

शताब्दी और वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन में चलेगा रेडियो (प्रतीकात्मक तस्वीर)



सुखद यात्रा का अनुभव कराने के लिए हुआ फैसला

रेलवे की ओर से कहा गया है कि इस पहल का उद्देश्य शताब्दी और वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेनों में हर एक यात्री को सुखद यात्रा का अनुभव प्रदान कराना है, क्योंकि अच्छे संगीत के साथ यात्रा के दौरान यात्रियों का मूड बेहतर होता है. वह अपनी यात्रा को इंजॉय करते हैं. ऐसे में रेलवे की इस पहल को यात्री खूब पसंद करेंगे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: