परिसर से चौकी समाप्त किया जाना भविष्य में अप्रिय परिणाम देगा-आशीष द्विवेदी

शैलेन्द्र गुप्ता

रायबरेली (संज्ञान न्यूज़) जिला हस्पताल परिसर से पुलिस चौकी का हटाया जाना दुर्भाग्यपूर्ण, परिसर से पुलिस चौकी हटाये जाने के उपरांत भविष्य में घटित किसी भी अप्रिय घटना का कौन होगा जिम्मेदार, हस्पताल प्रशासन या पुलिस? उपरोक्त प्रश्न उ०प्र० उद्योग व्यापार मंडल जिलाध्यक्ष एवं कांग्रेसी नेता आशीष द्विवेदी ने बीते दिन हस्पताल परिसर में पुलिस चौकी को ध्वस्त किये जाने के उपरांत मीडिया के माध्यम से जनहित में उठाये।

उन्होंने कहा कि सी.एम.एस नीता साहू द्वारा परिसर से साइकिल स्टैंड शुल्क समाप्त किया जाना सराहनीय कदम है किंतु परिसर में आये दिन घटित होने वाली अप्रिय घटनाओं पर नियंत्रण करना बिना पुलसिया व्यवस्था के असंभव होगा। जब कि पूर्व सी.एम.एस द्वारा हस्पताल कर्मचारियों एवं मरीजो व तीमारदारों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुवे परिसर में पुलिस चौकी स्थापित किये जाने की मांग के उपरांत चौकी बनाई गई थी। ऐसे में परिसर से चौकी समाप्त किया जाना भविष्य में अप्रिय परिणाम देगा।

उन्होंने कहा कि उपरोक्त घटनाक्रम के उपरांत हस्पताल एवं पुलिस प्रशासन में छोभ की स्थित निश्चित रूप से उत्पन्न होगी जो कि जनहित को ध्यान में रखते हुवे उचित नही है। श्री द्विवेदी का मानना है कि हस्पताल एवं पुलिस प्रशासन के मध्य उपजी स्थित का दुष्परिणाम आमजनता को भोगना होगा जो कि स्वागत योग्य नही है। परिसर में कानून व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त बनाये रखने के लिए हस्पताल एवं पुलिस प्रशासन के मध्य सामंजस्य होना नितांत आवश्यक है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: