चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से जुड़े 26 कॉलेजों में परीक्षा फॉर्म भरने पर रोक, जानें पूरा मामला

बुलंदशहर, गाजियाबाद, हापुड़ एवं गौतमबुद्ध नगर के कॉलेज 23 जबकि बागपत, मेरठ, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर एवं शामली जिले के कॉलेज 24 मई तक फॉर्म कैंपस में जमा करेंगे

मेरठ। चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से संबद्ध 26 बीएड कॉलेजों में फाइनल ईयर के तीन हजार से अधिक स्टूडेंट के परीक्षा फॉर्म संकट में फंस गए हैं। इन कॉलेजों द्वारा प्रथम वर्ष के परीक्षा फॉर्म कैंपस में जमा नहीं कराने पर फाइनल इयर के फॉर्म भरने पर रोक लगा दी है।

यूनिवर्सिटी ने कंपनी को किसी भी स्थिति में 26 बीएड कॉलेजों के फाइनल इयर के फॉर्म नहीं भरने के निर्देश दिए हैं। विवि के इस फैसले से छात्र मुसीबत में फंस गए हैं। छात्रों को कॉलेजों की गलतियों को भुगतना पड़ेगा। विवि ने प्रतिबंधित सभी 26 कॉलेजों की सूची वेबसाइट पर अपलोड कर दी है।

चौ. चरण सिंह विवि से संबद्ध कॉलेजों में एलएलबी, बीए-एलएलबी एवं एलएलएम कोर्स में वार्षिक एवं सेमेस्टर सिस्टम में प्रैक्टिकल से छूटे छात्र-छात्राओं के प्रैक्टिकल 19 मई को 10 बजे एनएएस कॉलेज में होंगे। विवि ने लॉ कोर्स में छूटे प्रैक्टिकल तिथि एवं सेंटर तय कर दिए हैं। विवि के अनुसार उक्त कोर्स में जिन स्टूडेंट के प्रैक्टिकल छूट गए थे और कालबाधित श्रेणी में नहीं आते वे 19 मई को 11 बजे एनएएस कॉलेज में पहुंचकर प्रैक्टिकल में शामिल हो जाएं। विवि के अनुसार छूटे प्रैक्टिकल में केवल वहीं स्टूडेंट शामिल हो सकते हैं जिन्होंने गोपनीय विभाग में काउंटर नंबर 40 पर अपना प्रत्यावेदन जमा करा दिया है।

विवि से संबद्ध कॉलेजों में बीएड फाइनल इयर के परीक्षा फॉर्म आज से 20 मई तक http://www.ccsuweb.in पर ऑनलाइन भरे जाएंगे। छात्र भरे हुए फॉर्म 21 मई तक संबंधित कॉलेजों में समस्त प्रमाण पत्र के साथ जमा कराएंगे। बुलंदशहर, गाजियाबाद, हापुड़ एवं गौतमबुद्ध नगर के कॉलेज 23 जबकि बागपत, मेरठ, मुजफ्फरनगर, सहारनपुर एवं शामली जिले के कॉलेज 24 मई तक फॉर्म कैंपस में जमा करेंगे। वहीं बीएड प्रथम वर्ष में किन्हीं कारणों से फॉर्म नहीं भर सकने वाले छात्र 16 मई तक ऑनलाइन फॉर्म भर सकते हैं। 17 मई तक छात्रों को ये फॉर्म कॉलेजों में जमा करने होंगे। इस दौरान फॉर्म भरने के बावजूद परीक्षा शुल्क जमा करने में विफल छात्र भी यह प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं।

Leave a Reply

%d bloggers like this: