Ayodhya ShriRam Mandir : अयोध्या श्रीराम मंदिर- शुभ मुहूर्त 24 जनवरी 2024, इसी दिन गर्भगृह में विराजमान होंगे रामलला

अयोध्या, । रामनगरी अयोध्या में इन दिनों भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर का निर्माण कार्य काफी गति पकड़ा चुका है। श्रीराम तीर्थ क्षेत्र की देखरेख में बन रहे मंदिर में गर्भ गृह लाल पत्थर से बन रहा है और इसका निर्माण कार्य पूर्ण होने पर रामलला शुभ मुहूर्त 24 जनवरी, 2024 को इसमें विराजमान होंगे।

श्रीराम लला जन्मभूमि मंदिर के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास जी महाराज ने बताया कि भगवान श्रीराम के मंदिर की प्रगति का कार्य 2023 में पूरा हो जाएगा। इस भव्य मंदिर का गर्भगृह लाल पत्थर से बन रहा है। इसी में शुभ मुहूर्त जनवरी 24, 2024 को श्रीराम लला को विराजमान किया जाएगा।

अयोध्या में श्रीराम लला के भव्य मंदिर में गर्भगृह का निर्माण कार्य एक जून से प्रारंभ होगा। एक जून को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गर्भगृह के निर्माण कार्य का शुभारंभ करेंगे। इससे पहले उन्होंने 25 मार्च 2020 को श्रीराम लला को टेंट के मंदिर से निकालकर मानस मंदिर में भी स्थापित किया था।

Ayodhya Shri Ram Mandir अयोध्या में श्रीराम लला के भव्य मंदिर में गर्भगृह का निर्माण कार्य एक जून से प्रारंभ होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गर्भगृह के निर्माण कार्य का शुभारंभ करेंगे। उन्होंने 25 मार्च 2020 को श्रीराम लला को टेंट से निकालकर मंदिर में भी स्थापित किया था।

अयोध्या में श्रीरामलला मंदिर के गर्भगृह निर्माण कार्य को लेकर मंदिर प्रांगण में पांच दिवसीय पूजन कार्य आज से प्रारंभ हो गया है। अयोध्या नगर निगम के महापौर ऋषिकेश उपाध्याय पूजन में यजमान बने हैं। पांच दिवसीय विशेष पूजन में देश के चुनिंदा 40 विद्वान सर्वदेव अनुष्ठान का संचालन कराएंगे। अनुष्ठान में सभी देवी- देवताओं को प्रसन्न करने के लिए विधिपूर्वक पूजन अर्चन किया जा रहा है। इस विशेष अनुष्ठान के तहत रुद्री, दुर्गा सप्तशती, विष्णु सहस्रनाम, चतुर्वेद का नियमित दो सत्रों में सुबह आठ से 11 व दोपहर तीन से 6.15 बजे तक पाठ हो रहा है। इसे संपन्न कराने के लिए राजस्थान से पंडित हितेश अवस्थी, सिद्धार्थनगर के उमेश ओझा, बंगाल के लीलाराम गौतम, दिल्ली के पवन शुक्ला, वाराणसी के रामजी मिश्रा तथा अयोध्या के दुर्गाप्रसाद, शिवशंकर वैदिक, रघुनाथदास शास्त्री, प्रमोद शास्त्री सहित 40 विद्वान मौजूद है। पांच जून को अनुष्ठान का समापन होगा, जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या भी शामिल होंगे।

श्रीराम लला मंदिर के गर्भ गृह के भूमि पूजन पर गर्भ गृह को फूल बंगले से सज्जित किया जाएगा। यहां पर तो एक जून को होने वाले भूमि पूजन को लेकर साज-सज्जा की व्यापक तैयारी की गई है। साज-सज्जा की तैयारी उन्हीं आशीष मिश्र को सौंपी गई है, जिन्होंने राममंदिर के भूमि पूजन में साज-सज्जा की थी। 

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: