श्रावस्‍ती में बरात का इंतजार कर रही थी दुल्हन, पहुंच गई पुल‍िस और खोल द‍िया दुल्‍हे का कालाच‍िट्ठा

श्रावस्ती, । भिनगा क्षेत्र के ग्राम पंचायत मछरिहवा के महरौली में बुधवार की रात बेटी के शादी की तैयारी जोर-शोर से चल रही थी। घर में खुशी का माहौल था। मेहमानों की आवभगत हो रही थी। यह सिलसिला देर रात तक चलता रहा, लेकिन हाथों में मेहंदी रचाए दुल्हन बरात का इंतजार करती रह गई। पूरी रात बीत गई और बरात गांव नहीं पहुंची। पुलिस ने घर पहुंचकर बताया कि दूल्हा पहले से शादीशुदा है। बरात रोक दी गई है।महरौली गांव निवासी पारसनाथ जायसवाल ने अपनी बेटी सुनीता का विवाह भिनगा क्षेत्र के ही लक्ष्मनपुर बाजार निवासी राम उगाजार के बेटे सुजीत के साथ तय की थी। 21 मई को तिलक समारोह भव्यता के साथ संपन्न हुआ। बेटी के परिवार में दान-दक्षिणा में भारी-भरकम राशि भी दी। एक जून को विवाह होना था। इसके लिए बेटी के पिता ने पूरी तैयारी की थी।

श्रावस्‍ती में बुधवार की शादी की तैयारी जोर-शोर से चल रही थीघर में खुशी का माहौल था। इसी बीच पुलिस घर पहुंची और बताया कि यह शादी नहीं हो सकती है। दूल्हा पहले से शादीशुदा है। इसल‍िए बरात रोक दी गई है।

विवाह का उत्सव भव्य बनाने पर भी काफी रुपये खर्च किए। रात में मेहमानों का स्वागत व खाना-पानी चल रहा था। इसी दौरान पुलिस घर पहुंच गई।पुलिस टीम ने बताया कि बरात आपके घर नहीं आएगी। दूल्हा पहले से शादीशुदा है। यह बात सुनते ही घर की खुशियां गम में बदल गईं। परिवार के लोगों के होश उड़ गए। विस्तार से जानकारी करने पर पता चला कि दूल्हे ने पहले से दिल्ली में दूसरी महिला के साथ कोर्ट मैरिज कर रखा था। गांव आकर वह चोरी-छिपे शादी कर रहा था। इसकी भनक उसके पत्नी को लग गई तो प्रार्थना पत्र लेकर कोतवाली पहुंच गई। पुलिस से विवाह रोकवाने की गुहार लगाई। इसके बाद पुलिस टीम ने दूल्हे को हिरासत में लेकर शादी रोकवा दी।

भिनगा कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक धर्मेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि लड़के ने अपनी मामी के साथ पहले से ही कोर्ट मैरिज कर रखी थी। इसकी सूचना मिलने पर शादी रोकवा दी गई। इस मामले में कन्या पक्ष की ओर से कोई तहरीर नहीं मिली है। शिकायत मिलने पर दूल्हा व परिवार के लोगों पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: