कुदरत का कहर बेमौसम मूसलाधार बारिश ने किसानों की उम्मीदों पर फेरा पानी

लगातार हो रही बारिश से जीवन हुआ अस्त-व्यस्त।

धर्मेश शुक्ल

लखीमपुर खीरी (संज्ञान न्यूज) प्रदेश के अधिकांश जिलों में हो रही लगातार भीषण बारिश से धान, गन्ना, केला और शाग भाजी की फसलें बर्बाद होने से किसानों में छाई मायूसी, इसे कुदरत की मार कहें या फिर किसानों की बदनसीबी, बेमौसम हो रही मूसलाधार बारिश ने जहां किसानों की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है तो वहीं आम जनजीवन भी प्रभावित हुआ है, खेतों में कटने को तैयार खड़ी धान की फसल तहस-नहस होने के कगार पर पहुंच गई है, जिससे किसानों की धड़कने बढ़ने के साथ ही उनमें मायूसी छा गई है।
बुधवार रात्रि से शुरू हुई रिमझिम बारिश के बाद गुरुवार रात्रि से रुक-रुक कर हो रही मूसलाधार बारिश से जहां आम जनजीवन प्रभावित हो गया है तो वही बेमौसम बरसात से फसल बर्बाद होने की आशंका से किसानों के दिल की धड़कने बढ़ने के साथ ही उनके चेहरों पर मायूसी छा गई है, आगामी 12 तारीक तक खराब रहेगा मौसम अलर्ट जारी, मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे तक भारी बारिश की संभावना जताते हुए अलर्ट जारी किया है, मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश के अधिकांश जिलों में अगले 24 घंटे तक इसी तरह रुक-रुक कर मूसलाधार बारिश होती रहेगी, तत्पश्चात एक-दो दिन बारिश धीमी होने के बाद पुनः भारी बारिश होने की संभावना जताई है।

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: