आगरा में डी. ई. आई: ए. आई. सी. टी. ई. की अटल फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम का शुभारंभ हुआ

कपिल चौरसिया

आगरा (संज्ञान दृष्टि) उत्तर प्रदेश के जनपद आगरा में ए. आई. सी. टी. ई अटल योजना के तहत दयालबाग शैक्षिक संस्थान आगरा के इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विभाग ने “अक्षय ऊर्जा संसाधन और ग्रामीण विद्युतीकरण: चुनौतियां और समाधान” विषय पर अटल फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम आयोजित करने जा रहा है शुभारंभ आज दिनांक 10 अक्टूबर 2022 से किया जा रहा है
यह एफ.डी.पी दो मोड में की जाएगी। पहले सत्ता में इसका आयोजन ऑनलाइन किया जाएगा। जिसमें अंतरराष्ट्रीय वक्ताओं द्वारा अपना ज्ञान शिक्षकों को पहुंचाया जाएगा जबकि दूसरे सप्ताह इस ज्ञान को ऑफलाइन मोड में दयालबाग शैक्षिक संस्थान में सम्मिलित होने वाले शिक्षकों और शोधकर्ताओं तक पहुंचाया जाएगा इसके साथ-साथ इस क्षेत्र में कार्यरत तीन मुख्य सॉफ्टवेयर कंपनियों होमर, टायफॉन एच.आई.एल, और ओपल आर.टी विशेषज्ञ इस बारे में बताएँगे। कि कैसे शोधकर्ता इन सॉफ्टवेयर का उपयोग अक्षय ऊर्जा और ग्रामीण विद्युतीकरण से संबंधित अपने विचारों को परियोजना का रूप देने के लिए कर सकते हैं। शोधकर्ता इन सॉफ्टवेयर्स का उपयोग करके परियोजनाओं के प्रदर्शन का परीक्षण करने में सक्षम होंगे।

डॉ. राजीव कुमार चौहान ने कहा कि व्यापार जगत में इस तरह के सॉफ्टवेयर की काफी मांग है। उन्होंने इस महान अवसर को हासिल करने के लिए शोधकर्ताओं को ग्रामीण अनुप्रयोगों के लिए अक्षय ऊर्जा प्रणालियों के क्षेत्र में अपने कौशल को बढ़ाने के लिए भी आमंत्रित किया है। प्रोफ़ेसर अजय कुमार सक्सेना ने बताया कि एक दिवसीय औद्योगिक दौरा भी इस एफ.डी.पी. का मुख्य हिस्सा होगा। जिसमें विभिन्न नवीकरणीय ऊर्जा आधारित परियोजनाओं को दिखाया जाएगा। जोकि डी.ई.आई द्वारा सफलतापूर्वक चल रही हैं।
एफ. डी. बी के शुरुआती चरण में प्रोफेसर एन.पी. पाडी, निदेशक एम. एन. आई. टी. जयपुर, सभी उन्नत प्रतिभाओं को स्मार्ट ग्रिड परिनियोजन और अनुप्रयोगों के विषय से अवगत कराया। स्मार्ट ग्रिड सूचना, संचार और विद्युत/डिजिटल इंजीनियरिंग का संगम है। विषय का मुख्य उदय स्मार्ट ग्रिड का उपयोग वास्तविक समय निगरानी और बिजली व्यवस्था को नियंत्रण तथा बिजली की गुणवत् प्रबंधन आदि में किस तरह से उपयोग किया जा रहा है। उस पर केंद्रित रहा।
कार्यक्रम को आगे बढ़ते हुए हुए डॉ. मारवा बेन अली, यूनिवर्सिटी ऑफ एसफैक्स टूनीशिया ने इलेक्ट्रिक टेक्नोलॉजी पर अपने विचार व्यक्त किए और प्रतिभागियों को इलेक्ट्रिक वाहन के क्षेत्र में बाधाओं और अवसरों का विश्लेषण किया

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: