बुआ ने षड्यंत्र कर भतीजे की हड़पी जमीन पीड़ित न्याय के लिए लगा रहा चक्कर

बीजेपी के पूर्व जिलाअध्यक्ष के लेटर पैड का दुरुपयोग कर की गई धोखाधड़ी

मुकेश शर्मा

रायबरेली (संज्ञान न्यूज़) जहां एक तरफ उत्तर प्रदेश सरकार भू माफियाओं पर शिकंजा कसने का काम कर रही है और उनके अवैध बिल्डिंग और मकानों पर जेसीबी चलवाकर जमीदोज कर रही हैं। फिर भी बेखौफ भूमाफिया सक्रिय होकर धोखाधड़ी कर दूसरों की जमीनों को हड़पने का काम कर रहे हैं ।ऐसा ही एक मामला रायबरेली जिले के शहर कोतवाली थाना क्षेत्र के कैपरगंज बाजार का सामने आया है जहां के रहने वाले मोहम्मद हसन पुत्र अनीस उल हसन निवासी उत्तरी दरवाजा थाना कोतवाली नगर द्वारा मंगलवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर शिकायती पत्र देते हुए अवगत कराया गया कि राजू उर्फ इफ्तिखार अहमद पुत्र निसार अहमद निसार अहमद पुत्र छुटावन,चांद बाबू पुत्र निसार अहमद,सबीना बानो पत्नी निसार अहमद, निवासी गण समस्त उत्तरी दरवाजा द्वारा उनकी पैतृक जमीन पर विपक्षीगणों द्वारा मकान का ताला तोड़कर जबरन कब्जा किया जा रहा है जिसको लेकर पूर्व में भी कई बार कब्जा करने की कोशिश की गई जिस के संबंध में थाना कोतवाली नगर में मामले का शिकायती पत्र दिया गया लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई कार्यवाही ना होने को लेकर पीड़ित मंगलवार को पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचा और शिकायती पत्र देते हुए बताया कि उक्त संपत्ति में उसकी दादी द्वारा एक रेहननामा किया गया था जिसको पीड़ित व उसकी चचेरी बहन शबनम अनीस अंसारी पुत्र स्वर्गीय मोहम्मद कैश अंसारी द्वारा सभी व्यक्तियों जो रेहन रखे थे उनके वारिसानओं से शर्तों के आधार पर पैसा वापस देकर रेहन नामा सब रजिस्ट्रार कार्यालय में निरस्त कराकर मामला खत्म किया गया ।किंतु विपक्षीगण फिर से जबरन उक्त भूमि पर मकान को कब्जा करने की कोशिश करते हैं और मना करने पर जान से मारने की धमकी देते हैं व मारपीट करते हैं

जमीन हड़पने को लेकर पूर्व जिला अध्यक्ष दिलीप यादव के लेटर पैड का दुरुपयोग किया गया जिस पर पूर्व जिला अध्यक्ष दिलीप यादव ने आपत्ति जताते हुए स्वयं से लेटर पैड जारी करते हुए इस भूमि से कोई लेना देना नहीं होना बताया ।

वही षड्यंत्रकारी तरह-तरह के आरोपों में फंसाने की साजिश रच रहे हैं पीड़ित हसन ने बताया कि फर्जी तरीके से उसको समाजवादी पार्टी के नेता मुख्तार अंसारी से जोड़ रहे हैं ।जबकि पीड़ित का कहना है कि मुख्तार अंसारी से उसका कोई लेना-देना नहीं है। और जब वह अपनी जमीन पर पहुंचता है तो वहां दर्जनो दबंग पहुंचकर धमकाते हैं और मारपीट करते हैं। पीड़ित हसन ने बताया कि विपक्षीगण अपराधिक किस्म के व्यक्ति हैं जो कराए जा रहे निर्माण पर रोक लगाकर कब्जा करने की कोशिश कर रहे हैं और मना करने पर गाली गलौज भी करते हैं पीड़ित हसन का कहना है कि उसके पास इस जमीन पर बने भवन के सारे कागजात भी मौजूद है।और सिविल जज न्यायालय से आदेश की कॉपी भी है तथा रजिस्टर के यहां उनका प्रमाण पत्र भी है। फिर भी दबंग न्यायालय के आदेश को मानने को तैयार नहीं है जिसके लिए पीड़ित न्याय हेतु आला अधिकारियों के दफ्तरों के चक्कर लगा रहा है लेकिन अब तक उसे न्याय नहीं मिला।

अनीसुल हसन पीड़ित

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: