नगर निकाय चुनाव में पिछड़ों के आरक्षण को रद्द करने के खिलाफ में स्वराज पार्टी ने किया विरोध प्रदर्शन

रंजीत कुमार

डोभी मे स्वराज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने नगर निकाय चुनाव के स्थगीत और अति पिछड़ा के नगर निगम से आरक्षण के समाप्ति के विरोध में डोभी के चतरा मोड़ से डोभी मोड़ होते हुए पुनः चतरा मोड़ तक प्रतिरोध मार्च निकला और प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया. प्रतिरोध मार्च का नेतृत्व कर रहे अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के गया जिला अध्यक्ष संतोष ठाकुर ने बताया कि नगर निकाय चुनाव में पिछड़ों-अतिपिछड़ों को दिए जा रहे आरक्षण के मसले पर पटना उच्च न्यायालय का जो फैसला आया है, उसके पीछे भाजपा सरकार और संघ की साजिश है।

श्री ठाकुन ने कहा कि जब से आरक्षण लागू हुआ है तब से अभी तक 3 वार चुनाव हो चुका लेकिन तब बिहार सरकार में भाजपा भी थी तब उस समय चूनाव पर रोक क्यू नही लगा ,वही मौके पर उपस्थित स्वराज पार्टी के छात्र नेता दीपक कुमार दांगी के कहा कि चुनाव के अंतिम दिनों में स्थगीत होने आम लोगों में काफ़ी आक्रोश है.आर्थिक संकट के इस गंभीर दौर में सरकार और जनता के करोड़ों रुपए खर्च हो चुके थे। इसे रोकना न सिर्फ एक भारी आर्थिक क्षति है, बल्कि स्थानीय स्तर पर कार्यरत लोकतांत्रिक प्रणाली को भी बाधित करना है। साथ ही हाई कोर्ट ने कुछ नहीं सोचा और सुप्रीम कोर्ट के फैसले के नाम पर बहुत ही अव्यावहारिक, अविवेकपूर्ण, दुर्भाग्यपूर्ण और पिछड़ा विरोधी फैसला लिया। नतीजा सामने है।*
प्रतिरोध मार्च में उपस्थित स्वराज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने भाजपा सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि भाजपा सरकार आरक्षण के साथ खिलवाड़ करना बंद करें अन्यथा जिस तरह से चाय से प्रधानमंत्री का सफर तय की है भाजपा उसी तरह से पुनः प्रधानमंत्री से चाय तक सफर तय करने के लिए तैयार रहें
मौके पर स्वराज पार्टी के सतेंद्र ठाकुर, अखिलेश मांझी, राकेश, पंकज वर्मा, मुकेश यादव, दीपक दास,ठाकुर, अनुज ठाकुर, सुभम ठाकुर एवम अन्य सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: