ज़िला पदाधिकारी द्वारा जनता दरबार में आये हुए लगभग 350 मामले की गई सुनवाई

रज़ा सिद्दीक़ी

गया (संज्ञान न्यूज़) गया, 14 अक्टूबर 2022, ज़िला पदाधिकारी गया डॉ० त्यागराजन एसएम ने जनता दरबार में आये हुए लगभग 350 व्यक्तियों के मामले को गंभीरतापूर्वक सुनते हुए संबंधित पदाधिकारियों को प्राप्त आवेदनों को जांच यथाशीघ्र कराते हुए जांच प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। आवेदकों के कई मामलों में जिला पदाधिकारी द्वारा जिले के वरीय पदाधिकारी यथा उप विकास आयुक्त, अपर समाहर्ता, अनुमंडल पदाधिकारी, संबंधित प्रखंड के नामित जिला स्तरीय पदाधिकारी आदि द्वारा मामले को जांच करने का भी जिम्मा दिया गया है।
जनता दरबार में प्रधानमंत्री आवास से संबंधित आए मामलों को जिला पदाधिकारी ने उप विकास आयुक्त को संबंधित आवेदनों को यथाशीघ्र जांच करते हुए पात्रता रखने वाले व्यक्तियों को प्रधानमंत्री/ मुख्यमंत्री आवास योजना का लाभ दिलवाना सुनिश्चित कराएंगे।
जनता दरबार में कई व्यक्तियों ने भूमि विवाद, आपसी बटवारा, अतिक्रमण, जमीन संबंधी दिक्कते आदि से संबंधित आवेदन दिए। उन सभी आवेदन के आलोक में जिला पदाधिकारी ने संबंधित अंचलाधिकारी तथा थानाध्यक्ष एवं अनुमंडल पदाधिकारी तथा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के अध्यक्षता में थाना स्तर एवं अनुमंडल स्तर पर हर शनिवार को आयोजित होने वाले जनता दरबार में दोनों पक्षों के व्यक्तियों को बुलाकर संबधित मामलों को प्राथमिकता देते हुए निराकरण कराने का निर्देश दिए।
जनता दरबार में जमीन से संबंधित अत्यधिक मामले को देखते हुए जिला पदाधिकारी ने आए आवेदनों को अपर समाहर्ता राजस्व को निर्देश दिया कि अच्छे तरीके से आए आवेदनों को जांच करते हुए संबंधित अधिकारियों द्वारा नियमानुसार उचित कार्रवाई करने हेतु आदेशित करें।
जनता दरबार में कई व्यक्ति परिमार्जन के संबंध में आवेदन दिए बेला, नगर, बोधगया, फतेहपुर, बथानी, आमस, शेरघाटी सहित अन्य अंचल के व्यक्ति ने परिमार्जन के संबंध में आवेदन देने पर जिला पदाधिकारी ने संबंधित अंचलाधिकारी को फटकार लगाते हुए सख्त निर्देश दिया कि परिमार्जन हेतु लंबित आवेदनों को तेजी से निष्पादन करें।
जनता दरबार के सुनवाई में आपदा विभाग के तहत अगलगी, सामूहिक सड़क दुर्घटना, लू से मृत्यु, कुआं में डूब ना वज्रपात, कोरोना से मृत्यु इत्यादि मामलों में जिला आपदा पदाधिकारी को तेजी से अनुपालन करवाने का निर्देश दिए।
जनता दरबार में बिजली विभाग के बिजली बिल ज्यादा आने, घर का बिजली कनेक्शन जोड़ने सहित अन्य मामले पर जिला पदाधिकारी ने कार्यपालक अभियंता बिजली पदाधिकारी को प्राप्त आवेदनों को जांच करते हुए अग्रेतर कार्रवाई करने का निर्देश दिए।
जनता दरबार में नगर तथा बोधगया के कई आवेदक परिमार्जन के संबंध में आए थे जिस पर जिला पदाधिकारी ने अंचलाधिकारियों को परिमार्जन हेतु अंचलों में प्राप्त आवेदनों को तेजी से निष्पादन करने का निर्देश दिए हैं।
जनता दरवार में आये व्यक्ति ने कल्याण विभाग में मुआवजा के एवज में दलाल द्वारा अवैध राशि की मांग की शिकायत ज़िले पदाधिकारी को किया। ज़िला पदाधिकारी ने स्वम आवेदक को लेकर कल्याण शाखा चले गए। वहां एक एक कर्मी की पहचान करवाया की किसके द्वारा अवैध राशि की मांग की गई। डीएम ने स्पष्ट निर्देश दिया कि किसी भी स्थिति में बिचौलिया पूरे समाहरणालय कैम्पस में नजर नहीं आनी चाहिए यदि कहीं से कोई सूचना मिलती है तो संबंधित कर्मी की संलिप्तता की जांच करते हुए उनपर कठोर कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने कल्याण पदाधिकारी को निर्देश दिया कि स्वीकृति मुआवजा को ससमय लाभुक के खाते में ट्रांसफर करवाना सुनिश्चित करे।

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: