धौरहरा के बाढ़ग्रस्त गाँव सधुवापुर, पकरियापुरवा पहुंचे डीएम-सीडीओ

अफसरों ने किया बाढ़ प्रभावितों से संवाद, जाना दुख-दर्द

पीड़ितों को हर संभव सहायता देने के लिए प्रशासन कटिबद्ध : डीएम

लखीमपुर खीरी । मंगलवार दोपहर अचानक करीब चार बजे डीएम महेंद्र बहादुर सिंह सीडीओ अनिल कुमार सिंह संग तहसील धौरहरा, ब्लॉक ईसानगर के बाढ़ग्रस्त इलाकों का जायजा लेने पहुंचे, जहां उन्होंने बाढ़ की विभीषिका का दंश झेल रहे घाघरा नदी के किनारे बसे ग्राम सधुवापुर सहित ग्राम मिर्जापुर मल्लापुर के मजरा पकरियापुरवा के ग्रामीणों से संवाद कर उनका दुख-दर्द जाना।

डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि बाढ़ से हुए नुकसान का आकलन कराकर शासन पीड़ितों को हर संभव सहायता देने के लिए कटिबद्ध है। बाढ़ग्रस्त इलाकों में स्थितियां धीरे-धीरे सामान्य हो रही है। बाढ़ का पानी लगातार कम हो रहा है, लेकिन हमारी जिम्मेदारी अभी समाप्त नहीं हुई है। इसलिए हम सबका दायित्व है कि पीड़ितों को हर सम्भव मदद मुहैया करायें। शासन-प्रशासन हर सम्भव मदद प्रदान करने हेतु प्रतिबद्ध है तथा जनपदवासियों की सेवा के लिए सदैव तत्पर है।प्रशासन लगातार बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोगों को राहत सामग्री और मेडिकल सुविधा पहुंचा रहा है।

ग्राम सधुवापुर में डीएम से संवाद के दौरान बांकेलाल ने बताया कि उनका कच्चा मकान था जो बारिश में गिर गया, जिसपर डीएम ने बीडीओ को सीएम आवास प्रदान करने के निर्देश दिए। चाँदनी, देवेंद्र प्रताप सहित कई ग्रामीण से बातकर उनका दुखदर्द जाना। डीएम ने सीडीओ संग पीड़ितों से मुलाकात कर संवाद किया, उन्हें प्रशासन की ओर से मिलने वाली राहत सामाग्री, भोजन पैकेट वितरित की पुष्टि की। उन्होंने बाढ़ पीड़ितों से बेहद आत्मीयता से बातचीत की, उनका दुख-दर्द साझा किया। खुद अपने हाथों से राहत सामग्री सौंपी और भरोसा दिया कि हर संकट में शासन-प्रशासन उनके साथ खड़ा है। बाढ़ आपदा में हुए उनके हर नुकसान की भरपाई की जाएगी। इस दौरान बीडीओ ईसानगर नीरज दुबे, बीडीओ धौरहरा चन्दनदेव पांडेय, ग्राम प्रधान सधुवापुर प्रीति श्रीवास्तव,प्रधान प्रतिनिधि रीतेश श्रीवास्तव मौजूद रहे।

डीएम ने बाढ़ग्रस्त ग्राम मिर्जापुर-मल्लापुर का मजरा पकरियापुरवा पहुंचे, जहां उन्होंने ग्रामीणों से बातचीत करके प्रशासन से उपलब्ध कराई जा रही राहत सामग्री के संबंध में जानकारी ली। प्रभावितों ने राहत सामग्री मिलने की बात स्वीकारी। डीएम ने अफसरों को साफ सफाई अभियान, ब्लीचिंग के छिड़काव अभियान युद्धस्तर पर चलाएं। डीएम ने गांव में चल रही मोहल्ला क्लासेस देखी, जहां उन्होंने रुककर छोटे बच्चे द्वारा आसपास के बच्चों को पठन पठान कराया जा रहा था, मौजूद बच्चों ने डीएम ने पहाड़े, गिनती, एबीसीडी सुनाई, जिसपर डीएम ने प्रसन्न होकर हौसला अफजाई की एवं पुरस्कृत किया।

डीएम ने लिया स्वच्छता, सैनेटाइजेशन, छिड़काव अभियान का जायजा, जानी हकीकत
डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में संक्रामक बीमारियों से बचाने के लिए स्वच्छता, सैनेटाइजेशन और छिड़काव का अभियान युद्धस्तर पर चल रहे अभियान की जमीनी हकीकत जानी। उन्होंने निर्देश दिए कि यह कार्य तब तक जारी रहे जबतक जमीन पूरी तरह सूख न जाए। गांव में किसी तरह की गंदगी न रहे।

बताते चलें कि बाढ़ पीड़ितो की तक भरपूर मदद सुनिश्चित करने के लिए डीएम, सीडीओ स्वंय प्रभावित गांवो का दौरा कर रहे हैं। इसके साथ ही सभी एसडीएम एवं तहसीलदार प्रभावित क्षेत्रों में भ्रमणशील रहकर राहत कार्यों की निगरानी में जुटे है। वही हेल्थ कैंप एवं पशु राहत चिकित्सा कैंप का भी नियमित अनुश्रवण एवं पर्यवेक्षण कर नियमित रिपोर्ट कर रहे हैं।

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: