डीएम के निर्देश पर दौड़े सभी नोडल अफसर, आवंटित क्रय केंद्रों का किया निरीक्षण, दिए निर्देश

धर्मेश शुक्ला,मनोज वर्मा

लखीमपुर खीरी (संज्ञान दृष्टि)। गुरुवार को डीएम महेंद्र बहादुर सिंह के निर्देश पर सभी नोडल अधिकारियों ने भ्रमणशील रहकर आवंटित धान क्रय केंद्रों का औचक निरीक्षण किया, जो अपनी रिपोर्ट डीएम को सौपेंगे।

नोडल अफसरों ने झसीया, ढसरापुर, कैमहरा, गणेशपुर सहित सभी धान क्रय केंद्र का निरीक्षण किया। नोडल अफसरों ने आवंटित धान क्रयकेंद्रों पर पहुंचकर न केवल मूल सुविधाओं की पड़ताल की बल्कि धान की आवक के संबंध में क्रय केंद्र प्रभारियों से वार्ता की। साथ ही केंद्रों पर किसानों के लिए की जाने वाली मूलभूत सुविधाओं के बारे में जाना।

नोडल अफसरों ने निर्देश दिए कि ऑनलाइन पंजीकरण कराकर अपना धान बेचने आए किसानों को फैसिलिटेट कराए, ताकि उन्हें कोई असुविधा ना हो। नोडल अफसरों ने क्रय केंद्र प्रभारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि शासन की मंशा के अनुरूप मानक के अनुरूप अधिक से अधिक किसानों का धान क्रय केंद्रों के जरिए न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदा जाए। यह शासन की शीर्ष प्राथमिकताओं में है। नोडल अफसरों ने अपने निरीक्षण में क्रय केंद्र प्रभारियों को इस बात के लिए सचेत किया कि किसी भी किसान का धान खरीद में उत्पीड़न ना हो, एवं शत प्रतिशत मानक के अनुरूप धान की खरीद हो।

नोडल अधिकारियो ने निर्देश दिए कि शासन द्वारा निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य (कामन धान हेतु रु.2040 प्रति कुंटल एवं ग्रेड-ए के धान के लिए रु. 2060 प्रति कुंटल) का भुगतान 72 घंटे के भीतर पीएफएमएस (पब्लिक फाइनेंस मैनेजमेंट सिस्टम) के जरिए किसानों के बैंक खातों भेजना सुनिश्चित करें। यह व्यवस्था और अधिक पारदर्शी और त्वरित भुगतान सुनिश्चित करेगी।

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: