जिला पदाधिकारी एवं वरीय पुलिस अधीक्षक की अध्यक्षता में दीपावली एवं छठ पर्व में प्रशासनिक व्यवस्था को लेकर किया गया बैठक।

संवाददाता: रज़ा सिद्दीक़ी

गया (संज्ञान दृष्टि) जिला पदाधिकारी तथा वरीय पुलिस अधीक्षक ने जिला वासियों को दीपावली एवं छठ पर्व की शुभकामनाएं एवं बधाई देते हुए अपील किया कि दीपावली में रात्रि 8 से 10 बजे तक ही केवल ग्रीन पटाखे न छोड़ें।
बैठक में जिला पदाधिकारी ने छठ पर्व को देखते हुए कार्यपालक अभियंता बुडको को निर्देश दिया कि छठ पर्व तक रोड कटिंग तथा पाइप बिछाने का कार्य को बंद करें। इसके साथ ही उन्होंने कार्यपालक अभियंता आरसीडी को निर्देश दिया कि प्राथमिकता देकर जीबी रोड, कोइरीबारी, नादरागंज तथा बाईपास के नारायणी पुल वाले सड़क को तेजी से मरम्मत करावे ताकि छठ व्रतियों को किसी प्रकार की कोई समस्या ना रहे। उन्होंने कार्यपालक अभियंता बुडको को स्पष्ट निर्देश दिया कि आज ही संबंधित सड़को को मरम्मत हेतु आरसीडी को ट्रांसफर पत्र निर्गत करें।
    बैठक में जिला पदाधिकारी ने निर्देश दिया कि जिस प्रकार दुर्गा पूजा में व्यवस्था थी, वही व्यवस्था दीपावली एवं छठ में लागू रहेगी। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थलों पर किसी प्रकार का मूर्ति बिना लाइसेंस के नही बैठाए जाएंगे, इसे सभी थाना प्रभारी सुनिश्चित करावे तथा मूर्ति प्रतिमाओं का विसर्जन का रूट लाइन/ तिथि और समय सभी आयोजन समिति से थाना प्रभारी प्राप्त करते हुए सूची बनाये, ताकि सभी मूर्तियों के विसर्जन के दौरान नजर राकी जा सके।
दीपावली के अवसर पर एनजीटी द्वारा दिए गए निर्देश के आलोक में केवल ग्रीन पटाका का प्रयोग की अनुमति है। ज़िले के सभी क्षेत्रों में अवैध पटाखों के निर्माण, बिक्री, भंडारण पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाए गए हैं। डीएम ने सभी एसडीएम एवं थाना को निर्देश दिया कि अपने क्षेत्र में अवैध पटाखा निर्माण, भंडारण तथा बिक्री पर सघन छापेमारी अभियान चलावे। इसके साथ ही सभी थानाध्यक्ष अपने-अपने क्षेत्र में कोई भी अवैध पटाखा का भंडारण अथवा बिक्री नहीं है, से संबंधित प्रमाण पत्र उपलब्ध करावे।
    उन्होंने नगर आयुक्त तथा नगर पंचायत सहित सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी को निर्देश दिया कि अपने क्षेत्र अंतर्गत महत्वपूर्ण घाटों की साफ-सफाई करवाये इसके साथ ही खतरनाक घाटों को चिन्हित करते हुए कोई हताहत या घटना ना हो इसे देखते हुए आवश्यक कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि घाटों पर बैरिकेडिंग, सीसीटीवी का अधिष्ठापन, चेंजिंग रूम, पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम, पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था, एंट्री एवं एग्जिट प्वाइंट की बेहतरीन व्यवस्था, छठ घाटों के जाने हेतु रास्तों में पर्याप्त रोशनी के साथ-साथ रास्ता को समतल बनाने, छठ घाटों के रास्ते तथा घाटों में जर्जर तार/ लूज वायर /लटकी हुई तार ना रहे, ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू रखने सहित अन्य व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराने का निर्देश दिए।
   धनतेरस को लेकर विशेष सुरक्षा व्यवस्था, यातायात व्यवस्था तथा आगजनी से बचाव हेतु निर्देश दिए गए। सभी थानाध्यक्ष को निर्देश दिया गया कि वे धनतेरस पर्व को लेकर नियमित पेट्रोलिंग करावे। अग्निशमन पदाधिकारी को निर्देश दिया कि फायर ब्रिगेड की वाहन एवं संबंधित कर्मियों को पूरी तरह तैयार रखें ताकि आवश्यकता पड़ने पर त्वरित कार्रवाई की जा सके।
    बैठक में अधीक्षक अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल तथा सिविल सर्जन को निर्देश दिया गया कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों एवं अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल में विशेषकर बर्न इंजूरी के इलाज हेतु समुचित व्यवस्था रखें। उन्होंने अधीक्षक अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल को निर्देश दिया कि बर्न इंजूरी के मरीज हेतु पर्याप्त बेड सुरक्षित रखें।
     बैठक में वरीय पुलिस अधीक्षक हरप्रीत कौर ने बताया कि किसी प्रकार की मूर्ति का अधिष्ठापन बिना लाइसेंस के ना होने, मूर्ति विसर्जन के लिये तिथि समय और रुट लाइन अपने थाना को उपलब्ध कराने संबंधित लोगों से अनुरोध किया। जिले में दीपावली एवं छठ के अवसर पर केवल ग्रीन पटाखे छोड़ने के बारे में बताया गया है इसके साथ ही समय भी निर्धारित है।
उन्होंने पुलिस उपाधीक्षक यातायात को निर्देश दिया कि शहरी क्षेत्रों के लिए ट्रैफिक प्लान आज ही तैयार करें साथ ही टिकारी रोड, किरानी घाट इत्यादि स्थानों पर भीड़ से बचाव हेतु प्लान तैयार करने का निर्देश दिया। उन्होंने सभी थानाध्यक्षों, पुलिस उपाधीक्षक, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को निर्देश दिया कि पेट्रोलिंग को नियमित रूप से करते हुए संबंधित निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करावे।
  

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: