नाली निर्माण को रोकने से गांव का विकास अवरुद्ध।

रज़ा सिद्दीक़ी

गया (संज्ञान न्यूज) गया जिला के मोहनपुर प्रखंड अंतर्गत मुसैला पंचायत के पासी टोला यानी महादलित टोला के वार्ड नं 10 में राजु यादव के घर से आहर तक नाली निर्माण का कार्य पूरे महादलित टोला के जनता के मशवरा से हो रहा था करिवन 15 फिट जब नाली की निकासी बाकी था तभी दिनेश यादव, कृष्णा यादव दोनों का पिता गौरी यादव के द्वारा रोक लगा दिया गया। जबकि जिस जगह पर नाली का निकासी होना है वह भी सरकारी जमीन है बिहार सरकार के जमीन होते हुए भी उस जमीन पर नाली निकासी के लिए दिनेश यादव, कृष्णा यादव के द्वारा ₹50000 घूस मांगने का भी बात आ रही है जबकि उनके पिता गौरी यादव का कहना है कि हम लोग नाली निकासी के लिए मना नहीं कर रहे हैं

वही गौरी यादव के भाई मोहित यादव भी इस बात से सहमत है की गली में नाली को निकासी हो जाना चाहिए। लेकिन उनके बेटा ही दिनेश यादव एवं कृष्णा यादव इस पर रोक लगा बैठे हैं जिससे गांव के विकास के कार्यों में अवरुद्ध हो रहा है। बात इतना तक ही नहीं बना बल्कि दिनेश यादव एवं कृष्णा यादव अपने पिताजी को ही नाली निकासी होने देने पर उन्हें ही घर में बंद कर करीबन 3 घंटे तक रस्सी से बांध रखा। अब एक पुत्र अपने पिता को ही इस तरह से अभद्र व्यवहार करें तो आखिरकार प्रशासन इस पर क्या कर रही है। नाली निकासी होने से गांव का विकास में भी अवरुद्ध पैदा हो गया है इसको लेकर के कई जनता इसका विरोध उत्पन्न करने लगे हैं।

जबकि मुसैला पंचायत के जनप्रतिनिधि इस बात को लेकर आवेदन दिए हुए हैं भूमि को अपने कब्जे का बताकर सार्वजनिक नाली निर्माण कार्य को रोक दिया गया है। आखिर बिहार सरकार की जमीन होते हुए भी प्रशासन इस गांव के विकास करने में पीछे क्यों छोड़ चला गया। आधा अधूरा नाली निर्माण होने से खाली भूमि में बड़ा गड्ढा आसपास के घरों का जल भरने के कारण तालाब का रूप ले सकता है। जलजमाव के कारण मलेरिया और डेंगू के मच्छरों का प्रकोप आसपास के क्षेत्रों में बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। ग्रामीणों के निवेदन है कि मोहनपुर प्रखंड विकास पदाधिकारी के साथ-साथ मोहनपुर थाना अध्यक्ष एवं गया जिला प्रशासन जल्द ही इस पर जनहित में निर्णय लेते हुए नाली निर्माण कराकर जल निकासी का रोडमैप तैयार कराया जाय

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: