पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी एवं पूर्व गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल के कार्यों एवं सपनो को तार, तार कर रही है भाजपा सरकार _ महागठबंधन

संवादाता रजा सिद्दीकीगया (संज्ञान न्यूज़) देश के प्रथम महिला प्रधानमंत्री स्व श्रीमती इंदिरा गांधी जी की 38 वीं शहादत दिवस एवं प्रथम गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल की 147 वीं जयंती के अवसर पर महागठबंधन के नेताओ कार्यकर्ताओं ने दोनो महान हस्तियों के तस्वीर के साथ मार्च किया। कार्यक्रम में शामिल महागठबंधन के नेताओ कार्यकर्ताओं ने कहा की आज का दिन महज संयोग है की महान स्वतंत्रता सेनानी देश के प्रथम गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल जिन्हे आखंड भारत का शिल्पिकार कहा जाता है, तो दूसरी देश के प्रथम महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जिन्होंने देश की एकता अखंडता के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दी थी। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या के बाद देश के गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल ने आर एस एस पर प्रतिबंध लगाने का काम किया था, परंतु आज भाजपा, आर एस एस के लोग देशवासियों को गुमराह कर इन्हे अपने विचारधारा का रहनुमा बताने में मशगूल है। नेताओ ने कहा की जिन प्राइवेट बैंकों, कोलियरी, सहित अन्य संस्थानों का राष्ट्रीयकरण पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जी ने किया, उसे आज केंद्र सरकार चंद पूंजीपतियों के हाथो बेच रही है। इंदिरा गांधी इतिहास ही नहीं बल्कि बंगलादेश को पाकिस्तान से आजाद करा कर भूगोल बदलने का काम किया, लेकिन आज सत्ता में बैठे लोग केवल पाकिस्तान का नाम लेकर भारतवासियों को गुमराह करने का काम कर रहे हैं। नेताओ ने आज इन दोनो महान हस्तियों के पद चिन्हों को नमन कर इनके बताए रास्ते पर चलने का संकल्प दोहराया। कार्यक्रम में अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सदस्य सह क्षेत्रीय प्रवक्ता बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी प्रो विजय कुमार मिठू, वरिष्ठ समाजवादी नेता राम लखन स्वर्णकार, कांग्रेस पार्टी के जिला उपाध्यक्ष बाबूलाल प्रसाद सिंह, प्रद्युमन दुबे, जदयू के वरिष्ठ नेता धनंजय शर्मा, टिंकू गिरी,वरिष्ठ वामपंथी चिंतक मुरारी शर्मा, जय प्रकाश कुमार, अशोक कुमार, मो असरफ इमाम, मनीष मिश्रा, श्रवण पासवान आदि शामिल थे।

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: