सोनहा आंगनबाड़ी केंद्र पहुंची गवर्नर, आंगनबाड़ी में नामांकित बच्चों को दी सौगातें

गवर्नर ने की महिलाओं की गोदभराई, बच्चों का किया अन्नप्राशन

बच्चों के प्रति राज्यपाल का झलका वात्सल्य, दुलारा

मनोज वर्मा, आलोक मिश्रा

लखीमपुर खीरी ( संज्ञान दृष्टि) । राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने तहसील व ब्लॉक पलिया के आंगनबाड़ी केंद्र सोनहा पहुंची, जहां उन्होंने विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन किया, संबंधित अफसरों ने अपने विभागीय योजनाओं के संबंध में जरूरी जानकारी दी।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने कहा कि आज इस आंगनवाड़ी केंद्र में बच्चों, उनकी माताओं एवं गांव के संभ्रांतजनों से मिलकर प्रसन्नता की अनुभूति हो रही। आप ना केवल बॉर्डर पर निवास करते बल्कि इसकी सलामती भी करते है। हमें भारत को सशक्त, आबाद एवं शक्तिशाली बनाना होगा। अभिभावक को यह जानना होगा कि उनका बच्चा किस फील्ड में आगे जाना चाहता है। भविष्य में उसे क्या बनना है, इसके लिए अभी से प्रवृत्तियों शुरू करनी होगी। मौजूद ग्राम वासियों से आग्रह किया कि अपने बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्र अवश्य भेजें। बच्चे की शिक्षा अनवरत जारी रहे, हम सबको मिलकर सुनिश्चित करना होगा। अभी 30 फ़ीसदी बच्चे ही कालेज पहुंचते हैं। प्रधानमंत्री का 2030 तक लक्ष्य है कि 50 फ़ीसदी बच्चे कॉलेज पहुंचे।

उन्होंने कहा कि प्राथमिक शिक्षा के क्षेत्र में यह सुनिश्चित किया जाए कि जिन बच्चों की आयु सितंबर माह में 05 वर्ष की पूरी हो रही है। उन बच्चों का प्रवेश माह अप्रैल में ही कर लिया जाए, ताकि उनके राशन व शिक्षा का नुकसान ना हो। इसे अगले वर्ष से सुनिश्चित कराया जाए। प्रसव चिकित्सालय में और संस्थागत हो, इसे सुनिश्चित कराया जाए। बच्चे आपका बैंक अकाउंट है। बच्चों को जरूर पढ़ाएं, उन्हें अच्छे संस्कार दें, ताकि वह देश के लिए कुछ करने का जज्बा व संकल्प लेकर आगे बढ़े।

राज्यपाल ने आंगनबाड़ी केंद्र के लिए 05 किट उपलब्ध कराई। जिसका वितरण उन्होंने स्वयं किया। उन्होंने बच्चों को कुर्सियों, मेज, खिलौने, साइकिल सहित किट की अन्य सामग्री सौपी। उन्होंने बच्चों को स्वयं कुर्सियों पर बिठाकर उन्हें दुलारा। इस दौरान राज्यपाल का बच्चों के प्रति वात्सल्य साफ झलक रहा था। राज्यपाल ने 05 महिलाओं को पुष्टाहार किट देकर गोद भराई संस्कार व छह माह के पांच बच्चों खिलाकर अन्नप्राशन संस्कार संपन्न कराया। उन्होंने दस दिव्यांगों को कृतिम उपकरण एवं 05 लाभार्थियों को आयुष्मान गोल्डन कार्ड प्रदान किए।

राज्यपाल ने विभिन्न सरकारी विभागों द्वारा लगाई विकास प्रदर्शनी का अवलोकन किया, संबंधित अफसरों ने अपने विभागीय योजनाओं के संबंध में जरूरी जानकारी दी। इस दौरान केले के रेशे से तैयार टोकरी व बैग बनाने के संबंध में बीडीओ अरुण सिंह ने जानकारी दी, राज्यपाल ने अफसर के नवाचरो एवं अभिनव प्रयासों की सराहना की।

गवर्नर ने प्राथमिक विद्यालय का किया निरीक्षण, चखा मिड-डे मील
गवर्नर ने आयान को प्रदान किया पेन
गवर्नर ने डीएम महेंद्र बहादुर सिंह के संग प्राथमिक विद्यालय का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान कक्षा चार में पठन-पठान चल रहा था, उन्होंने बच्चे आयान, दामिनी और राधिका से उनकी पुस्तक से कई सवाल किए, इसके जवाब मिलने पर प्रसन्नता जाहिर की। इस दौरान उन्होंने बच्चे आयन को एक पेन भी गिफ्ट किया। इसके बाद उन्होंने नामांकित बच्चे की संख्या जानी। उन्होंने मिड डे मिल में बच्चों के लिए तैयार की जा रही सब्जी रोटी स्वम् चखकर गुणवत्ता परखी। इस दौरान उन्होंने भोजन तैयार कर रही रसोइयों से भी संवाद किया।

Leave a Reply

%d bloggers like this: