जनपद स्तरीय रबी उत्पादकता गोष्ठी का हुआ आगाज

किसान मेला, कृषि वैज्ञानिक संवाद का हुआ भव्य आयोजन

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री ने विधायक संग किया शुभारंभ

लखीमपुर खीरी 22 नवंबर। मंगलवार को कृषि उत्पादन मंडी समिति में सीडीओ अनिल कुमार सिंह की अध्यक्षता में जनपद स्तरीय रबी उत्पादकता गोष्ठी, किसान मेला, कृषि वैज्ञानिक संवाद का आयोजन हुआ। मुख्य अतिथि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री भारत सरकार अजय मिश्र ‘टेनी’ ने विधायक सदर योगेश वर्मा के साथ दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

विधायक सदर योगेश वर्मा ने कहा कि किसान गोष्ठी एवं मेलों में कृषि वैज्ञानिकों के माध्यम से दी जा रही जानकारियों का किसान आत्मसात करते हुए अपनी उत्पादकता को बढ़ाएं। विधायक ने अनुरोध किया कि पीएम किसान सम्मान निधि योजना में केवल पात्र कृषक ही आवेदन करें, सारी चीजे पारदर्शिता के आधार पर ऑन लाइन प्रक्रिया से की जा रही है। सभी लोग एक-दूसरे का सहयोग कर धरातल पर योजनाओं को उतारने में सहयोग करें।

सीडीओ अनिल कुमार सिंह ने बताया कि जनपद, ब्लाक स्तर पर कृषि विभाग के द्वारा खरीफ एवं रबी में किसान गोष्ठी-किसान मेले की आवश्यकता एवं प्रासंगिकता बताई। गोष्ठियों में कृषकों को अवश्य प्रतिभाग करना चाहिए। पीएम किसान सम्मान निधि योजना एक महत्वपूर्ण योजना है, यह योजना ऐसे छोटे-छोटे कृषकों के लिए और महत्वपूर्ण हो जाती है जिनकी जोत बहुत ही न्यून है। योजना में प्रत्येक चार माह में कृषकों को दो हजार/-की किस्त दी जाती है, जिसके माध्यम से छोटे जोत के कृषक खरीफ, रबी एवं जायद में अपनी खेती के लिए बीज, खाद की व्यवस्था करते है। पीएम-किसान का कई चरणों में सत्यापन कर अपात्र/मृतक/जनपद से बाहर के कृषकों को चिन्हित कर योजना से बाहर किया। अभी भी कुछ कृषक बचे है जो योजना से लाभान्वित नहीं है। ऐसे कृषक फार्म भरकर उसके साथ आधार, खतौनी, बैंक पासबुक की छायाप्रति संलग्नकर तहसील पर जमा कर दें ताकि सभी किसानों को योजना का लाभ प्राप्त हो सके।

सीडीओ ने कृषकों से अनुरोध किया कि सभी कृषक पराली को न जलाने में सहयोग करें, पराली प्रबन्धन के यंत्रों का प्रयोग कर फसल अवशेषों पुवाल एवं गन्ने की पत्ती को खेत में सड़ाये ताकि मृदा में जीवांश की मात्रा बढ़ सके। रबी बुवाई का समय चल रहा है। सभी कृषक उन्नतशील बीज का इस्तेमाल कर समय से बुवाई करें ताकि रबी की उत्पादकता दोगुना प्राप्त कर सकें, जिससे खरीफ में हुए नुकसान की भरपाई हो सके।

डीडी कृषि अरविन्द मोहन मिश्र ने कहा कि कृषि विभाग द्वारा कृषि यंत्र, सोलर पम्प की योजनायें पहले आओं पहले पाओं के सिद्धान्त पर लागू है, इसके लिए किसानों को कृषि विभाग की वेबसाइट पर टोकन निकालना होगा। ऐसे किसान जिनका पंजीकरण पूर्व से है वही टोकन निकाल सकते है। कृषि यंत्रों पर कृषकों को 50 प्रतिशत तथा सोलर पम्प पर 60 प्रतिशत तक का अनुदान अनुमन्य है। इस वर्ष सोलर पम्प के लिये दो बार टोकन जारी किये है।

गृह राज्यमंत्री ने किया स्टालों का अवलोकन
केंद्रीय गृह राज्य मंत्री भारत सरकार/ खीरी सांसद अजय मिश्र टेनी व विधायक सदर योगेश वर्मा ने अधिकारियों के संग जनपद स्तरीय रबी उत्पादकता गोष्ठी, किसान मेला में कृषि, गन्ना, रेशम, पशुपालन, कृषि रक्षा, प्रगतिशील कृषक, कृषक उत्पादक संगठन एवं निजी क्षेत्र के उर्वरक, बीज बिक्रेताओं के स्टालों का अवलोकन किया।

फार्मर प्रोड्यूसर को मिली ट्रैक्टर की सौगात
प्रगतिशील किसानों को मिली मिनी किट
केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र ‘टेनी’’ एवं विधायक सदर योगेश वर्मा ने प्रमोशन ऑफ एग्रीकल्चरल मैकेनाइजेशन फार इन-सीटू मैनेजमेन्ट आफ क्राप रेज्ड्यू योजनान्तर्गत वर्ष 2022-23 में स्थापित फार्म मशीनरी बैंक जयप्रभा फार्मर प्रोड्यूसर कम्पनी लि0 एवं ओपी महतिया ऑगेर्निक फार्मर प्रोड्यूसर कम्पनी लि0 को ट्रैक्टर की चाभी दी एवं प्रगतिशील कृषकों को मिनीकिट वितरित की।

इनकी रही मौजूदगी :
सांसद प्रतिनिधि अरविन्द सिंह, खीरी के अतिरिक्त डीडी कृषि अरविन्द मोहन मिश्र, जिला कृषि अधिकारी अरविन्द कुमार चौधरी, पीपीओ सत्येन्द्र सिंह, भूमि संरक्षण अधिकारी (गोमती) सुबाष चन्द्र, उप सम्भागीय कृषि प्रसार अधिकारी-सदर निखिल देव तिवारी, प्रक्षेत्र प्रबन्धक जमुनाबाद संजीव कुमार, डीएचओ मृत्युंजय सिंह, सीवीओ डा. जगदीश सिंह, अध्यक्ष/वरिष्ठ वैज्ञानिक डा.एमके विश्वकर्मा, कृषि वैज्ञानिक डा. पीके बिसेन, डा.मो. सुहेल, रेशम विकास अधिकारी सीएम गौतम एवं प्रगतिशील कृषक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

%d bloggers like this: