सड़क सुरक्षा माह : सड़क जागरूकता का संदेश लेकर छात्राओं के बीच पहुंचे एआरटीओ, किया जागरूक।

सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए बालिकाओं ने लिखे रचनात्मक स्लोगन

प्रांजल श्रीवास्तव

लखीमपुर खीरी (संज्ञान न्यूज़) मुख्य सचिव, उप्र शासन से प्राप्त निर्देशों, डीएम महेंद्र बहादुर सिंह व एसपी गणेश प्रसाद साहा के मार्गदर्शन, निर्देशन में सड़क सुरक्षा के बारे में जागरूकता पैदा करने, सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के उद्देश्‍य से जनपद खीरी मे ’’सड़क सुरक्षा माह’’ मनाया जा रहा।

सड़क सुरक्षा माह पर आयोजित कार्यक्रमों की श्रंखला में नगर के सनातन धर्म सरस्वती विद्या मंदिर बालिका इंटर कॉलेज के सभागार में भव्य कार्यक्रम हुआ, जिसका शुभारंभ एआरटीओ रमेश चौबे, टीएसआई जेपी यादव, प्रधानाचार्य शिप्रा बाजपेई के साथ मां सरस्वती के चित्र का अनावरण एवं दीप जलाकर किया।

एआरटीओ रमेश कुमार चौबे ने कहा कि सड़क दुर्घटनाएं ज्यादातर हमारी गलती से होती हैं। अगर हम नियमों का पालन करें तो सड़क दुर्घटनाओं को कम कर सकते हैं। वाहन चलाने को लेकर लापरवाह और अति आत्मविश्वास नहीं होना चाहिए। सीट बेल्ट और हेलमेट आपको गंभीर चोट से बचाते हैं। अगर हम अपनी और अपने परिजनों की चिंता करते हैं, तब हम इतने लापरवाह कैसे हो सकते हैं। आंकड़ों के अनुसार सड़क सुरक्षा में हम सबसे अधिक युवाओं को खो देते हैं।

यातायात उपनिरीक्षक जेपी यादव ने कहा कि सड़क जागरूकता माह का उद्देश्य युवाओं को यातायात नियमों का पालन करने के लिए प्रोत्साहन करना और दुर्घटनाओं से मौतों एवं चोटों को रोकना है। सड़क सुरक्षा को लेकर हम अपनी जिम्मेदारी को समझें। हेलमेट पहनने, सीट बेल्ट लगाने और अन्य सुरक्षा मानकों का पालन करने के प्रति हमें जागरूक रहना चाहिए।

प्रधानाचार्य शिप्रा बाजपेई ने कहा कि हममें से प्रत्येक के लिए सड़क की सुरक्षा सबसे महत्वपूर्ण है। बालिकाओं को प्रेरित करते हुए कहा कि जब भी हम सड़क पर किसी वाहन से यात्रा कर रहे हो तो हमारी सुरक्षा हमारे हाथ में है। इसके बाद नारा लेखन कार्यक्रम का आयोजन हुआ, जिसमें बालिकाओं ने उत्साहपूर्वक सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए नए और रचनात्मक स्लोगन लिखे।

Leave a Reply

You may have missed

%d bloggers like this: